Syndicate Bank
banner
 

जमा योजनाएँ

 

जमा खातों के प्रकार :

जनता से प्राप्त जमाओं को मोटे तौर पर दो भागों में वर्गीकरण किया गया है, मांग जमाएँ - अर्थात् वे जमाराशियां, जिन्हें बैंकिंग कारोबार-समय के दौरान मांग की जाने पर आहरण पर्ची या चेक के जरिए निकाला जा सकता है और मीयादी जमाएँ, अर्थात् वे जमाराशियाँ जो किसी विशिष्ट अवधि के लिए रखी जाती हैं और परिपक्वता पर देय होती हैं। मीयादी जमाओं को सावधि जमाएँ भी कहा जाता है, जो परिपक्वता से पहले भी निर्धारित सूचना देने पर और पूर्व भुगतान के लिए दंड चुकाने पर अदा की जा सकती हैं। बैंक में खाता खोलने के लिए जनता को 'अपने ग्राहक को जानिए' संबंधी प्रचलित शर्तों का पालन करना होगा, जैसे कि पहचान का प्रमाण/आवास का प्रमाण एवं परिचय प्रस्तुत करना आदि।

मांग जमाएँ

चालू खाते और बचत खाते को मांग जमाओं के अंतर्गत वर्गीकृत किया गया है और ऐसे खातों को सेवा प्रदान करने के लिए इन खातों में निर्धारित न्यूनतम शेष बनाए रखना आवश्यक है। न्यूनतम शेष बनाए न रखने पर बैंक द्वारा समय समय पर निर्धारित प्रभार लागू होगा। निर्धारित न्यूनतम शेष की जानकारी नीचे प्रस्तुत की गई है.

वर्ग  ग्रामीण अर्ध- शहरी   शहरी/ महानगर  
चालू खाता        

वैयक्तिक

Rs.1,000/-

Rs.2,000/-

Rs.5,000/-

अन्य

Rs.2,000/-

Rs.2,000/-

Rs.5,000/-

बचत बैंक खाता  

चेक बुक सुविधा सहित

Rs.500/-

Rs.1000/-

Rs.1000/-

चेक बुक सुविधा के बिना

Rs.100/-

Rs.100/-

Rs.500/-



बचत खातो/चालू खातों में न्यूनतम औसत शेष राशि निम्न प्रकार हैं:- : 

खाते का प्रकार        

ग्रामीण

अर्ध-शहरी

शहरी / महानगरीय केंद्र

उन व्यक्तियों के बचत खाते जिनके वेतन ऐसे खातों के जरिये आहारित किए जाते हैं

Rs.500/-

Rs.500/-

Rs.500/-

पिग्मी एजेंट

Rs.500/-

Rs.500/-

Rs.500/-



बचत खाते/चालू खातों में संशोधित न्यूनतम औसत शेष राशि निम्न प्रकार हैं:-

1) चेक बुक सुविधा के बिना:

बचत बैंक:

मेट्रो/शहरी

अर्ध-शहरी/ग्रामीण

अनुबद्ध एमएबी: Rs.500/- 

अनुबद्ध एमएबी: Rs.100/- 

यदि औसत मासिक शेष राशि Rs.499-350 के रेंज में हो

Rs.20/-+जीएसटी

यदि औसत मासिक शेष राशि रु 99-50/- के रेंज में हो

Rs.10/-+जीएसटी

Rs.349-200/-  

Rs.30/-+जीएसटी

Rs.49-20/-

Rs.20/-+जीएसटी

Rs.199/- एवं उससे कम

Rs.40/-+जीएसटी

Rs.19 एवं उससे कम

Rs.25/-+जीएसटी

2) चेक बुक सुविधा के साथ:

बचत बैंक:

मेट्रो/शहरी /अर्ध-शहरी

ग्रामीण

अनुबद्ध एमएबी: Rs.1000/- 

अनुबद्ध एमएबी: Rs.500/- 

यदि औसत मासिक शेष राशि Rs.999-700 के रेंज में हो

Rs.20/-+जीएसटी

यदि औसत मासिक शेष राशि Rs.499-350/- के रेंज में हो

Rs.20/-+जीएसटी

Rs.699-400/-

Rs.30/-+जीएसटी

Rs.349-200/-

Rs.30/-+जीएसटी

Rs.399/- एवं उससे कम

Rs.40/-+जीएसटी

Rs.199 एवं उससे कम

Rs.40/-+जीएसटी


नोट: सीबीएस शाखाओं में न्यूनतम शेष राशि के स्थान पर न्यूनतम मासिक औसत शेष राशि निर्धारित की गई है।

स्टाफ/पेंशनभोगी/वरिष्ठ नागरिक सुरक्षा जमा (एससीएसडी) खाताधारक/रक्षा कर्मियों के लिए कोई न्यूनतम शेष नहीं है।

सावधि जमाएँ:

इन जमा योजनाओं के तहत जमाकर्ता परिपक्वता पर या आवधिक अंतराल से ब्याज के भुगतान का विकल्प चुन सकता है। सावधि जमा, सामाजिक सुरक्षा जमा, वरिष्ठ नागरिक सुरक्षा जमा जैसी योजनाऍ आवधिक ब्याज भुगतान सुविधा देती हैं. सुविधा जमा के तहत बिना किसी दंड के मूलधन का आंशिक आहरण किया जा सकता है। विकास नकद प्रमाणपत्र में तिमाही चक्रवृद्धि ब्याज दिया जाता है, जो परिपक्वता पर मूलधन के साथ देय होता है।

सुनियोजित निवेश योजना / मासिक बचत या संचयी जमा, आरडी प्लस के लिए भी योजना है, जिसमें चुनी गई अवधि के लिए प्रतिमाह एक निर्धारित मासिक किश्त का भुगतान किया जा सकता है तथा परिपक्वता पर तिमाही चक्रवृद्धि ब्याज सहित मूलधन का भुगतान किया जाता है।

पिग्मी 1928 और पिग्मी प्लस 2007 नामक बैंक की दैनिक जमा योजना 63 माह से 72 माह के लिए बैंक के प्राधिकृत एजंटों, पिग्मी एजेंटो के जरिए ग्राहकों के दरवाजे से जमा संग्रहण को सुसाध्य करती है। मूलधन और ब्याज परिपक्वता पर देय होता है।

सूचना दिए जाने पर और दंड का भुगतान करने पर सावधि जमा का परिपक्वता-पूर्व आहरण किया जा सकता है। सावधि जमाओं पर निर्धारित सीमा तक ऋण भी प्राप्त किया जा सकता है।

नामांकन:

सभी जमाओं, बैंक की सुरक्षा अभिरक्षा में सौंपी गई वस्तुओं और व्यक्तियों / एकल स्वामी के सुरक्षा जमा लॉकर्स के संबंध में नामांकन सुविधा उपलब्ध है। जमाकर्ता केवल एक व्यक्ति के पक्ष में नामांकन कर सकता है और उत्तरवर्ती नामांकन / नामांकन का निरस्तीकरण भी उपलब्ध है। यह संस्तुति की जाती है कि जनता को अपने जमा खातों के लिए बिना चूके नामांकन सुविधा का उपयोग करना चाहिए।

विभिन्न योजनाओं के ब्यौरों के लिए 'हमारी जमा योजनाएँ' पर ;क्लिक करें*

आपकी जमाराशि डी आई सी जी सी से बीमाकृत है'। 'जमा बीमा' की अधिक जानकारी के लिए यहाँ ; क्लिक करें*
हमारे बैंक द्वारा अनिवासी भारतीय (एनआरआई) खातों के अनुसरण के लिए किए गए सामान्य कार्यप्रणाली

नई खाता खोलने/खाता में जमा के लिए भेजे गए लिखतों/विप्रेषणों की पावती।
जमाराशि रसीदों को नि:शुल्क सुरक्षित रखना
स्थायी अनुदेशों का पालन करना
हम छुट्टी के दिन परिपक्व होनेवाली जमाराशियों पर ऐसी छुट्टी हेतु संविदागत दर पर ब्याज देते हैं।
हमने वेबसाइट का शुभारंभ किया है जिसमें एन आर आई की सेवाओं पर विशेष ध्यान दिया है तथा इसे समय समय पर अद्यतन करते हैं।

डिस्क्लेमर: इस वेबसाइट की सामग्री पूरी तरह से सूचनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए है। यह किसी भी प्रकार के कारोबार की सिफ़ारिश नहीं करता है।

2015 सिंडिकेट बैंक. सर्वाधिकार सुरक्षित     यह वेबसाइट सबसे अच्छे रूप से 1280 x 800 में देखा जाता है